सपने

सपने मेरे नहीं आपके सपने, हमारे सपने, समाज में व्याप्त विसंगतियां मन को व्यथित करती हैं. संवेदनाओं की पृष्ठभूमि से जन्मी रचनाएँ मेरीनहीं आपकी आवाज हैं. इन आँखों में एक ख्वाब पलता है, सुकून हो हर दिल में इक दिया आश का जलता है. - शशि.
शशि का अर्थ है -- चन्द्रमा, तो चाँद सी शीतलता प्रदान करने का नाम है जिंदगी .
शब्दों की मिठास व रचना की सुवास ताउम्र अंतर्मन महकातें हैं. मेरे साथ सपनों की हसीन वादियों में आपका स्वागत है.

follow on facebook

FOLLOWERS

Friday, August 3, 2012

रक्षाकवच ....

हाइकु


१   आया है पर्व 
    राखी का त्यौहार 
      स्नेह उल्लास .

२   सजी दुकाने 
    कलावे रंगबिरंगे
     रेशमी धागे .

३   आई है बहना
   सजी पूजा की थाली
     रेशमी डोरी  .

४   पूजा की थाली 
   रोली चावल बाती
    अन्न मिष्ठान .

५    ललाट टीका
    सजा रोली चावल 
     नेह बरसे  .


६     राखी की डोर 
     स्नेह का है प्रतिक
        रक्षाकवच .

७    रक्षाबंधन  
    आत्मीयता स्नेह 
     मिश्री मिठास .

८   नाजुक डोरी 
   बंधी  कलाई पर 
     है  रक्षाक्षूत्र .
  
  ९   खास तोहफा 
    बरसते आशीष 
      जीवन भर  .



१०   भैया हमारा 
      सर्वदा सकुशल  
      यही है अर्ज .
             --------शशि पुरवार

सदोका ---

१ स्नेह प्रतीक 
 बंधा है मणिबंध
 रेशम  के तागे से 
   रक्षाकवच
 अटूट है बंधन
 बहिन का भाई से .


२  सजे बाजार 
    शबल परिधान 
   मखमली राखियाँ 
    अन्न मिष्ठान 
  पूजा की थाली संग
   है स्नेहिल मुस्कान .

३  सजी रंगोली 
   किया  है अनुष्ठान  
   पूजा व्रत विधान 
    भाई के नाम 
   ईश्वर से कामना
    सर्वथा संरक्षित  .

 ४  भैया मोरे तू 
   रिश्ते की प्रतिष्ठा
   अब तेरे ही हाथ 
     रक्षाकवच 
   सदा रहेगा साथ
   स्नेहिल ये बंधन .
            -------  शशि पुरवार 

 


 
 




 


 

9 comments:

  1. वाह...
    बहुत सुन्दर...
    त्यौहार का हर रंग बिखरा दिया आपने...
    अनु

    ReplyDelete
  2. वाह बेहतरीन रचना बहुत-२ बधाई
    (अरुन शर्मा = arunsblog.in)

    ReplyDelete
  3. बहुत सुन्दर...

    ReplyDelete
  4. बहुत सराहनीय प्रस्तुति.
    बहुत सुंदर बात कही है इन पंक्तियों में. दिल को छू गयी.


    http://madan-saxena.blogspot.in/
    http://mmsaxena.blogspot.in/
    http://madanmohansaxena.blogspot.in/

    ReplyDelete
  5. बहुत -बहुत सुन्दर प्यारी रचना..
    शुभकामनाये...
    :-)

    ReplyDelete
  6. सुन्दर हाईकू के लिए बधाई |

    ReplyDelete

नमस्कार मित्रों, आपके शब्द हमारे लिए अनमोल है यहाँ तक आ ही गएँ हैं तो अपनी अनमोल प्रतिक्रिया व्यक्त करके हमें अनुग्रहित करें. स्नेहिल धन्यवाद ---शशि पुरवार



linkwith

sapne-shashi.blogspot.com