सपने

सपने मेरे नहीं आपके सपने, हमारे सपने, समाज में व्याप्त विसंगतियां मन को व्यथित करती हैं. संवेदनाओं की पृष्ठभूमि से जन्मी रचनाएँ मेरीनहीं आपकी आवाज हैं. इन आँखों में एक ख्वाब पलता है, सुकून हो हर दिल में इक दिया आश का जलता है. - शशि.
शशि का अर्थ है -- चन्द्रमा, तो चाँद सी शीतलता प्रदान करने का नाम है जिंदगी .
शब्दों की मिठास व रचना की सुवास ताउम्र अंतर्मन महकातें हैं. मेरे साथ सपनों की हसीन वादियों में आपका स्वागत है.

follow on facebook

FOLLOWERS

Wednesday, July 10, 2013

दिल के तार




१ मन प्रांगन
यादों के बादल से
झरते मोती .

 २ 

 धीमा गरल
पीर की है चुभन
खोखला तन 

पीर जो जन्मी
बबूल  सी चुभती
स्वयं की साँसे

दिल का दर्द
रेगिस्तान बन के
तन में बसा .

दिल के तार
जीवन का श्रृंगार
तुम्हारा प्यार .



५ 
भीनी खुशबू
सजी गुलदस्ते में
खिले हाइकू .

६ 
समेटे प्यार
फूलों सा उपहार
हिंदी हाइकू …

14 comments:

  1. बहुत ही सही ... उत्‍कृष्‍ट लेखन के लिए आभार

    ReplyDelete
  2. nmshkar shashi ji badhiya hayku.

    ReplyDelete
  3. आपकी इस प्रस्तुति का लिंक 11/07/2013 के चर्चा मंच पर है
    कृपया पधारें

    ReplyDelete
  4. वाह !!! बहुत उम्दा, हाइकू लाजबाब लगे ,,,

    ReplyDelete
  5. क्या बात, सभी हाइकू एक से बढ़कर एक
    बहुत सुंदर

    कांग्रेस के एक मुख्यमंत्री असली चेहरा : पढिए रोजनामचा
    http://dailyreportsonline.blogspot.in/2013/07/like.html#comment-form

    ReplyDelete
  6. बहुत सुंदर हाइकू शशि जी , आभार




    यहाँ भी पधारे ,

    http://hindihaiga.blogspot.in/2013/07/blog-post_10.html

    ReplyDelete
  7. उम्दा हइकू.... लिखते रहिये ... कभी कभी मेरे ब्लॉग पर भी आते रहिये

    ReplyDelete
  8. बेहतरीन हाइकू हैं।

    पधारिये और बताईये  निशब्द

    ReplyDelete
  9. सभी हायकू अच्छे लगे.

    ReplyDelete
  10. वाह ... सभी हाइकू लाजवाब हैं ...

    ReplyDelete

  11. बेहतरीन हाइकू हैं।


    ReplyDelete
  12. आपकी यह बेहतरीन रचना कल दिनांक 12.07.2013 को http://blogprasaran.blogspot.in/ पर लिंक की गयी है। कृपया इसे देखें और अपने सुझाव दें।

    ReplyDelete
  13. बहुत ही भावमय व सार्थक हाइकू, आभार.

    रामराम.

    ReplyDelete

नमस्कार मित्रों, आपके शब्द हमारे लिए अनमोल है यहाँ तक आ ही गएँ हैं तो अपनी अनमोल प्रतिक्रिया व्यक्त करके हमें अनुग्रहित करें. स्नेहिल धन्यवाद ---शशि पुरवार



linkwith

sapne-shashi.blogspot.com