सपने

सपने मेरे नहीं आपके सपने, हमारे सपने, समाज में व्याप्त विसंगतियां मन को व्यथित करती हैं. संवेदनाओं की पृष्ठभूमि से जन्मी रचनाएँ मेरीनहीं आपकी आवाज हैं. इन आँखों में एक ख्वाब पलता है, सुकून हो हर दिल में इक दिया आश का जलता है. - शशि.
शशि का अर्थ है -- चन्द्रमा, तो चाँद सी शीतलता प्रदान करने का नाम है जिंदगी .
शब्दों की मिठास व रचना की सुवास ताउम्र अंतर्मन महकातें हैं. मेरे साथ सपनों की हसीन वादियों में आपका स्वागत है.

follow on facebook

FOLLOWERS

Thursday, June 21, 2012

ख्वाब ,..........!


ख्वाब ,
दिल के प्रांगण में
सदा लहलहाते

पलकों की छाँव तले
ख्वाबों के परिंदे
कभी उड़ते ,कभी थमते
दिल के कल्पवृक्ष
पे सदा चहचहाते
गुलशन महकाते .

वक्त  से पहले
नसीब से ज्यादा
नहीं भरता
जिंदगी का प्याला ,
आशाओं के बीज
रोपते ,नहीं रूकते
वृक्ष ख्वाबों के
फलते फूलते
दिल के प्रांगण को
सदा महकाते .

झिलमिलाती आशाएं
खिलखिलाते सपने
हिंडोले लेता मन मयूर
कर्म की भूमि पर
हाथों की लकीर के
आगे नतमस्तक ,
फिर भी ख्वाब ,
कभी नहीं हारते .

ख्वाब, दिल के प्रांगण
सदा लहलहाते ,
खिलखिलाते ......!

:--शशि पुरवार
दोस्तों ,आज मेरेसपने , मेरे  ब्लॉग को एक वर्ष पूरा हो गया और आप सभी का बहुत स्नेह मिला ......! अपना स्नेह बनाये रखें .
कल का दिन खास है  , आप सभी के साथ यह पल और अनमोल होगा ,सपने और उड़न भरेंगे और कलम में नया रंग भी ......:)
 

13 comments:

  1. आशाएं यूँ ही बंधी रहे ....

    ReplyDelete
  2. सपने यूँ ही सजते रहे

    ReplyDelete
  3. सदा लहलहाते रहे खिलखिलाते रहे,,,,
    ब्लोगिंग के एक वर्ष पूरा करने की बधाई शुभकामनाये,,,,,

    MY RECENT POST:...काव्यान्जलि ...: यह स्वर्ण पंछी था कभी...
    RECENT POST ,,,,फुहार....: न जाने क्यों,

    ReplyDelete
  4. बहुत अच्छा लिखा हैं, स्वप्न और यथार्थ का मिश्रण ।

    ReplyDelete
  5. Nice one didi...Congrats for 1 year and we will talk tomorrow on your special day :)

    ReplyDelete
  6. **♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**
    ~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~
    *****************************************************************
    जन्मदिन की हार्दिक शुभकामनाएं स्वीकार करें।

    सूचनार्थ


    सैलानी की कलम से

    पर्यटन पर उम्दा ब्लॉग को फ़ालो करें एवं पाएं नयी जानकारी



    ♥ आपके ब्लॉग़ की चर्चा ब्लॉग4वार्ता पर ! ♥


    ♥ पेसल वार्ता - सहरा को समंदर कहना ♥


    ♥रथयात्रा की शुभकामनाएं♥

    ब्लॉ.ललित शर्मा
    ***********************************************
    ~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^~^
    **♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**♥**

    ReplyDelete
  7. एक वर्ष पूरा होने पर बधाई ... सुंदर प्रस्तुति

    ReplyDelete
  8. बधाई बधाई बधाई..........................
    कलम में इन्द्रधनुष भर लीजिए....................

    सस्नेह
    अनु

    ReplyDelete
  9. बहुत सुन्दर है ख्वाबों की यह उड़ान
    एक वर्ष पूरा होने पर बधाई

    ReplyDelete
  10. bahut bahut badhai aapki likhni ko bal mile aur bhavon ki kami kabhi na ho
    rachana

    ReplyDelete
  11. एक वर्ष पूरा होने पे बधाई ...
    सच है समय से पहले और किस्मत से ज्यादा नहीं मिलता ...

    ReplyDelete
  12. Congratulation Shashi for completing one year by this beautiful hindi poem. I must say beautifully expressed:)
    Keep writing:)

    ReplyDelete
  13. यदि आपकी रूचि हिंदी कविता पढ़ने-लिखने में और उभरते युवा-कवियों का मार्ग-दर्शन करने में है, तो आप गूगल+ पर हमारी कम्युनिटी 'हमारा हिंदी कवि-मंच' (https://plus.google.com/u/0/communities/103937543352029619330) को ज्वाइन कर सकते हैं। लेकिन हमारी इस कम्युनिटी में स्वरचित हिंदी कविताओं के अतिरिक्त कोई भी अन्य सामग्री पोस्ट करना व् एक-दो लाइन की आधी-अधूरी रचनाओं के साथ अपने ब्लॉग पेज व् किसी अन्य वेब पेज अथवा साइट्स को प्रमोट करना सर्वथा वर्जित है।

    ReplyDelete

नमस्कार मित्रों, आपके शब्द हमारे लिए अनमोल है यहाँ तक आ ही गएँ हैं तो अपनी अनमोल प्रतिक्रिया व्यक्त करके हमें अनुग्रहित करें. स्नेहिल धन्यवाद ---शशि पुरवार



linkwith

sapne-shashi.blogspot.com